आआपा के कारज – आम आदमी पार्टी का भ्रष्टाचार पर निशाना

भ्रष्टाचार ख़त्म करने के लिए हेल्पलाइन और लोकपाल नहीं बल्कि पुराने घोटालों को करने वाले भ्रष्टाचारियों पर सख्ती से दंड लागु करना होता है। यदि आम आदमी पार्टी और उसका नेता केजरीवाल इतने ही ईमानदार हैं तो दिल्ली में हुए घोटालों पर कार्यवाही क्यों नहीं करते? डालते हैं नज़र आआपा के कारज यानी उसके निशाने पर भ्रष्टाचार की कहानी जिसके दम पर यह पार्टी खड़ी खुई थी| पढ़ना जारी रखे आआपा के कारज – आम आदमी पार्टी का भ्रष्टाचार पर निशाना

गजेन्द्र सिंह किसान की आत्महत्या

गजेन्द्र किसान की आत्महत्या, आत्महत्या नहीं हत्या है क्यूंकि आत्म हत्या की कोशिश उस किसान गजेन्द्र ने सबके सामने की, किसी ने नहीं रोका। घटनास्थल पर सबसे ज्यादा संख्या आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं की थी – हजारों में, उसके बाद 20-25 के आसपास गेस्ट टीचर थे, फिर उनसे पीछे या बीच में 70-80 मीडियाकर्मी खड़े थे| पढ़ना जारी रखे गजेन्द्र सिंह किसान की आत्महत्या