नरेन्द्र मोदी के बारे में विचार

एक मुस्लिम मित्र के साथ FB संवाद की एक टिप्पणी .

बाबा, लेकिन मुस्लिम मोदी का अंधविरोध कर, ब्राह्मणों में अनेक चाणक्य पैदा करने में लगे हैं.मुझ आप दोनों को पता है की भारत में निजामे मुस्तफा कायम करने को मुस्लिमों को भड़काया जा रहा है भीतर भीतर.उन्हें कौन समझाए जीना यहाँ मरना यहाँ .खाक होने के लिए दो गज जमीन भी यहीं .

अरे जब औरंगजेब न कर सका तो अब कैसे होगा ??????

अरेअब तो भारत एक महासंघ है और महाशक्ति भी .काफी आत्मनिर्भर भी .और देश के लिए पहले से ज्यादा एकजुट भी.

विवेकानंद ने कहा था ‘ धर्म के पहले भूखे को रोटी दो ‘.यही देश के मुसलमानों हिन्दुओं को पहले करना चाहिए भी.

2006 तक मैं भी मोदी विरोधी था और अमेरिका में बैठ जो भी लिबरल कहते थे वही सही भी समझता था .( पुराना सोसलिस्ट ठहरा 🙂 ) .

लेकिन गुजरात के एक मुस्लिम सहकारी ने ही दंगों की हकीकत और मोदी विरोध का कारण बताया तो दंग रह गया .लेकिन मैं पुष्टि चाहता था और उसके बाद न जाने कितनी बार गया गुजरात वहां के दंगों के बाद खास वही जानने .

और समझा सत्य को .पिछले कई दंगों और उन पर बैठे कमिसन आदि की रिपोर्ट सहित वर्तमान तक .मुझे मोदी की निर्लिप्तता पर विश्वास हुआ .

गुजरात पचासों सालों से जाता रहा हूँ ,वहां के दंगों के बाद खास.

लेकिन मोदी के गुजरात में मुझे विकास दिखा और उसका विश्वकर्मा मोदी ही था .

और उसके सब का साथ और विकास की उसकी प्रक्रिया को भी समझा जो जुमला नहीं है ,जमीन पर चल रहा है .

तो उसे मुस्लिम भी साथ दें .

रोटी ,कपडा ,मकान ,सिक्षा ,स्वास्थ्य ,न्याय और सम्मान के लिए लडाई हो .

मोदी गाँधी लोहिया दीनदयाल के अन्त्योदय की बात करता है .कतार में खड़े आखिरी आदमी की बात और सेवा का संकल्प .

बलिया में हाल ही में मोदी ने जो कहा ‘ उज्ज्वला ‘ समर्पित करते देश को ,

उसको एक बार सुनो तो !

राजकुमार सिंह
Follow Me

राजकुमार सिंह

CEO at 1 UP ARTS International
Lives in Mumbai, India. He was in New York City Civil Service working as an Engineer from 1988 to 2010. He is a soldier at India Want Right to Recall and Final War Against Corruption Social Groups. Since January 2010, he is working as a CEO of 1 UP ARTS International. He studied Electrical Engineering at NIT Jamshedpur and was a student of University of Allahabad and RIT Jamshedpur earlier.
राजकुमार सिंह
Follow Me

Latest posts by राजकुमार सिंह (see all)

द्वारा प्रकाशित

राजकुमार सिंह

Lives in Mumbai, India. He was in New York City Civil Service working as an Engineer from 1988 to 2010. He is a soldier at India Want Right to Recall and Final War Against Corruption Social Groups. Since January 2010, he is working as a CEO of 1 UP ARTS International. He studied Electrical Engineering at NIT Jamshedpur and was a student of University of Allahabad and RIT Jamshedpur earlier.

टिपण्णी

Loading Facebook Comments ...
Loading Disqus Comments ...

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

 

No Trackbacks.