कश्मीर का हल

खून खौल रहा है ना, मेरा भी खून उबाल मार रहा है|

पहले सुकमा में २५ जवान शहीद और उनके शवों के साथ छेड़छाड़ अब कश्मीर में पाकिस्तान की सेना द्वारा भारत के सेना के दो सैनिकों की 200 मीटर अन्दर आकर हत्या और उनके शवों के साथ छेड़छाड़|

ये देखकर गरियाने का मन करता है तो गरिया लेते हैं| आप गरियाइए मोदी को, राजनाथ को, जेटली को| आप उनके विकल्प देख रहे हैं| जबकि मैं समस्या की असली जड़ देखने में यकीन रखता हूँ| पढ़ना जारी रखे कश्मीर का हल

फिल्म घातक और श्रीनगर घटना

फ़िल्म-घातक

कात्या और उसके भाईयों का इलाक़े में ज़बरदस्त आतंक है, हर कोई डरा सहमा सा कात्या और उसके भाईयों के जुल्मों को सहन कर रहा है। तभी काशी का इलाके में आना होता है और पहली बार आतंक मचा रहे गुंडों की पिटाई हो जाती है। दबे कुचले लोगों को काशी में अपना रक्षक दिखाई देता है और इलाके में ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ती है। लोगों में उत्साह है और सब लोग एकमत से कात्या के ख़िलाफ़ खड़े हो जाते है। पढ़ना जारी रखे फिल्म घातक और श्रीनगर घटना

मसरत आलम भट की गिरफ़्तारी

मसरत आलम की वजह से भाजपा पर ऊँगली उठाने वाले आपिये और कांग्रेसी ये क्यों भूल जाते हैं कि वो भाजपा ही है जिसने अपने राष्ट्राध्यक्ष श्यामाप्रसाद मुख़र्जी की शाहदत सिर्फ कश्मीर को भारत से जोड़ने की अपनी वचनबद्धता की वजह से दी थी। क्यों वो भूल जाते हैं कि जिस समय कश्मीर में हिन्दू का कदम रखना भी गुनाह होता था तब नरेंद्र मोदी ने अपनी जान पर खेल कर कश्मीर के लाल चौक में तिरंगा लहरा कर दिखाया था। पढ़ना जारी रखे मसरत आलम भट की गिरफ़्तारी